कोई रेप पीड़ितों का दर्द भी सुने

FacebookGoogle+TwitterLinkedinTumblremailPrint पंजाब हरियाणा हाइकोर्ट डिवीजन बेंच ने कहा है कि मुरथल गैंगरेप हुआ था और सरकार को शीघ्र ही अपराधियों को गिरफ्तार करना चाहिए। शर्म की बात तो यह है कि जिस देश में यत्र नार्यस्तु पूज्यते, भारतीय संस्कृति का द्योतक माना जाता है, वहां रेप जैसा घिनोना कृत्य हो जाता है और इससे भी […]

किस और बैठेगा ट्रम्प का दांव ?

FacebookGoogle+TwitterLinkedinTumblremailPrint जैसा अंदाजा लगाया जा रहा था, अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका को ट्रांस पैसेफिक भागीदारी से अलग कर लिया। अमेरिका, कनाडा, मेक्सिको, पेरू, चिली, जापान, ऑस्ट्रेलिया, वियतनाम, मलेशिया, सिंगापूर, ब्रूनेई, न्यूज़ीलैंड देशों से मिलकर बनी यह ट्रांस पैसेफिक पार्टनरशिप विश्व के सकल घरेलु उत्पाद में लगभग 40% की भागीदारी रखता है। […]

जल्लीकट्टू : कभी औरतों पर परम्परा के नाम पर जुल्म और अब जानवरों पर भी

FacebookGoogle+TwitterLinkedinTumblremailPrint तमिलनाडु क्षेत्र में 2000 वर्षों से भी अधिक समय पूर्व के एक परंपरागत खेल, जल्लीकट्टू को वर्ष 2014 में सर्वोच्च न्यायलय ने यह कहते हुए प्रतिबंधित कर दिया कि यह पशुओं पर अत्याचार है। पिछले ही वर्ष तमिलनाडु सरकार द्वारा दायर पुनर्विचार याचिका पर भी सुनवाई नहीं हुई और अब केंद्र सरकार, जल्लीकट्टू के […]

अमेरिका फर्स्ट, अमेरिका अलोन नहीं

FacebookGoogle+TwitterLinkedinTumblremailPrintअमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका को अपनी खोई हुई प्रतिष्ठा वापिस दिलाने की बात की। रोजगार के मामले में नई तरह से विचार की बात चल रही है। इसमें डरने की आवश्यकता नहीं क्योंकि वैश्विक प्रतिस्पर्धा, स्वयं को अलग करके नहीं की जा सकती। भारत ही नहीं,चीन का भी अमेरिका में ट्रिलियन […]

बापू दिलों में हों, ये जरुरी है

FacebookGoogle+TwitterLinkedinTumblremailPrint खादी ग्रामोद्योग आयोग के कैलेंडर से गाँधी जी की तस्वीर हटा दी गयी। कुछ दिन पूर्व तो कुछ बैंक नोटों पर से भी बापू गायब मिले थे। ये मात्र एक संयोग नहीं है। ये तो बापू के बाद से चल रहा एक अनवरत सिलसिला है। बापू की दी हुई अहिंसा को हम मौन स्वीकृति […]

छेड़छाड़ और अश्लीलता से शुरू होता नया साल

FacebookGoogle+TwitterLinkedinTumblremailPrint 2016 साल जा रहा था ओर नये साल का आगमन हो रहा था लेकिन नये साल की ये कैसी शुरुआत हुई या कहें,  पुराना साल कैसा तोहफा देता हुआ गया | बंगलौर एक ऐसा शहर जिसे ज्यादातर शहरों में से सबसे सुरक्षित माना जाता रहा है | मैंने भी अक्सर बंगलौर में रहने वाली […]