शिया और सुन्नी वक्फ बोर्ड हो जाएगा भंग, योगी सरकार ने दी मंजूरी

Yogi Adityanath

लखनऊ भ्रष्टाचार के आरोपों के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के शिया और सुन्नी वक्फ बोर्ड जल्द ही भंग किए जाएंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंजूरी मिलने के बाद इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। दोनों वक्फ बोर्ड के भ्रष्टाचार की जांच की श‍िकायत भी सीबीआई से की गई है। यही नहीं जल्द ही सरकार वफ्फ बोर्डों में हुए भ्रष्टाचार को लेकर श्वेत पत्र जारी करेगी। 

मंत्री लक्ष्मी नारायण ने बताया कि शिया और सुन्नी वक्फ बोर्डों के चेयरमैन पर करोड़ों के घोटालों के गंभीर आरोप हैं। इन पर निजी स्वार्थ के चलते करोड़ों की जमीन बेचने का भी आरोप लगा है।

क्या है मामलाः

उत्तर प्रदेश के वक्फ राज्यमंत्री मोहसिन रजा ने गुरुवार को पीटीआई से कहा, ‘मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दोनों वक्फ बोर्ड भंग करने की मंजूरी दे दी है। बहुत जल्द दोनों बोर्ड भंग कर दिए जाएंगे।‘ उन्होंने बताया कि तमाम कानूनी पहलुओं पर गौर करने के बाद दोनों बोर्ड भंग करने की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के शिया वक्फ बोर्ड और सुन्नी वक्फ बोर्ड में वक्फ संपत्तियों की बंदरबांट के गंभीर आरोप लगे हैं। वक्फ काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा हाल में इन आरोपों की जांच में भी विभिन्न अनियमितताएं पाई गई थीं।

शिया वक्फ बोर्ड पर लगे आरोपों की जांच में बोर्ड के मौजूदा अध्यक्ष वसीम रिजवी की भूमिका संदिग्ध मानी गई थी। साथ ही इसके छींटे पूर्ववर्ती सरकार में वक्फ मंत्री रहे आजम खान पर भी पड़े थे। मोहसिन रजा ने शिया और सुन्नी बोर्ड को लेकर वक्फ काउंसिल ऑफ इंडिया की अलग-अलग तैयार रिपोर्ट मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंपी थी।

darul-uloom

Post Author: Anuj Tomar

2,786 thoughts on “शिया और सुन्नी वक्फ बोर्ड हो जाएगा भंग, योगी सरकार ने दी मंजूरी